व्यक्तित्व विकास के लिए योग प्रभावी माध्यम : डॉ. शरद कांदे

व्यक्तित्व विकास के लिए योग प्रभावी माध्यम : डॉ. शरद कांदे

कोंढवा, जून (हड़पसर एक्सप्रेस न्यूज़ नेटवर्क)
ट्रिनिटी पॉलिटेक्निक में हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी योग दिवस का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मार्गदर्शन करते हुए महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.शरद कांदे ने दैनिक जीवन में योग एवं इसके लाभों के बारे में जानकारी दी। सभी ने बौद्धिक मानसिक एवं शारीरिक स्वास्थ्य संतुलन बनाए रखने के लिए योग के महत्व का विश्लेषण किया। आगे भोग से योग की ओर बढ़ने के लिए योग क्रियाओं और उनके अनूठे महत्व के बारे में बताया गया।

योग दिवस के अवसर पर प्रोफेसर आशीष मोडक ने योग प्राणायाम का प्रदर्शन करते हुए विभिन्न योग मुद्राओं और उनके फायदों के बारे में उपस्थितों को अवगत कराया जैसे कि :-

वृक्षासन- पैरों, टखनों, घुटनों और जांघों की मांसपेशियों को मजबूत बनाने में मदद करता है।
ताड़ासन- यह योगासन पीठ दर्द से राहत दिलाता है।
मयूरासन- इस योग के नियमित अभ्यास से पाचन में सुधार होता है और पेट की समस्याओं में सुधार होता है।
पद्मासन- यह योग पीठ और हृदय रोगों के लिए सबसे अच्छा आसन है, यह हमारी पाचन शक्ति को बढ़ाने में भी मदद करता है।
प्राणायाम- यह आपकी शारीरिक और मानसिक शक्ति को बढ़ाता है।

इस अवसर पर संस्था के संस्थापक श्री कल्याणराव जाधव एवं संकुल के निदेशक समीर कल्ला ने भी उपस्थितों को मार्गदर्शन किया। यहां विभाग प्रमुख प्रा. स्मिता जगताप, प्रा.संतोष डोईफोडे, प्रा.हनुमान इंगले, प्रा.युवराज पवार. प्रा.भैरवनाथ जाधव व सभी शिक्षण एवं गैर-शिक्षण वर्ग उपस्थित थे।
कार्यक्रम का प्रास्ताविक प्रा. योगिता जाधव और आभार प्रदर्शन प्रा. प्रतीक्षा सनस ने किया।

Spread the love
Previous post

आरटीई एक्ट पर कोर्ट लगा चुकी है रोक, अब बच्चों को दें स्कूलों में प्रवेश : ढाई लाख बच्चों की शिक्षा के साथ खिलवाड़ करना बंद कीजिए : आम आदमी पार्टी/आप अभिभावक संघ

Next post

मध्य रेल, मुख्यालय, मुंबई छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस में क्षेत्रीय राजभाषा कार्यान्वयन समिति की 185वीं बैठक संपन्न

Post Comment