जल्द ही पिंपरी चिंचवड़ शहर में ईज़ीपेडल राइडशेयर परिवहन परियोजना की होगी शुरूआत

जल्द ही पिंपरी चिंचवड़ शहर में ईज़ीपेडल राइडशेयर परिवहन परियोजना की होगी शुरूआत

पिंपरी, जून (हड़पसर एक्सप्रेस न्यूज नेटवर्क)
पिंपरी चिंचवड़ महानगरपालिका (पीसीएमसी) और पिंपरी चिंचवड़ स्मार्ट सिटी प्राइवेट लिमिटेड की ओर से ईज़ीपेडल पब्लिक राइडशेयर इस महत्वाकांक्षी सार्वजनिक पहल की घोषणा की गई है। इस परियोजना के माध्यम सेे पिंपरी चिंचवड़ के नागरिक उन्नत यूरोपीय तकनीक पर आधारित पेडेलेक (इलेक्ट्रिक साइकिल) और स्मार्ट साइकिल राइडशेयर प्रणाली का लाभ उठा सकेंगे।

इस परियोजना के पहले चरण में पिंपल सौदागर, वाकड और विशाल नगर के क्षेत्र शामिल होंगे। इस परियोजना का उद्देश्य साइकिलिंग संस्कृति को बढ़ावा देना है। इस पहल से नागरिकों के स्वास्थ्य में काफी सुधार होता है। यह शहर के बस रैपिड ट्रांजिट (बीआरटी) और मेट्रो यंत्रणा के लिए अंतिम चरण तक कुशल कनेक्टिविटी प्रदान करता है। इस पहल में सार्वजनिक स्थानों, सामुदायिक जगह, आवासीय क्षेत्रों और वाणिज्यिक क्षेत्रों में सौर पैनलों द्वारा संचालित स्मार्ट डॉक स्थापित किए जाएंगे। इस परियोजना का लक्ष्य शहर में वर्तमान में पैदल यात्रीयों के लिए उपलब्ध रहनेवाली बुनियादी ढांचे के साथ कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए एक मजबूत नेटवर्क बनाना, इस परियोजना का उद्देश्य है।
पिंपरी चिंचवड़ के अभियंता निखिल दिलीप देशमुख और प्रत्यूष श्रीनिवासन ने ईज़ीपेडल इस स्टार्टअप की स्थापना की है। यूरोपीय मानकों और वैश्विक मॉडलों से प्रेरित होकर उन्होंने एक अभिनव और कुशल राइडशेयर प्रणाली विकसित की है। शहर में नई परियोजनाओं को विकसित करने के लिए प्रतिबद्ध रहनेवाले पिंपरी चिंचवड़ स्टार्टअप इन्क्यूबेशन सेंटर में यह स्टार्टअप का कामकाज होता है।

इस परियोजना को आरंभ और कार्यान्वित करने के लिए आर्किटेक्ट, शहरी योजनाकार और पिंपरी-चिंचवड के बाइसिकल मेयर आशिक जैन, महापालिका के अधिकारी, यातायात एवं परिवहन विभाग के कार्यकारी अभियंता बापूसाहेब गायकवाड, महापालिका के उपअभियंता सुनील पवार, सुश्री चित्रा पनवार, सीएस, पिंपरी-चिंचवड स्मार्ट सिटी लिमिटेड का सहयोग प्राप्त हुआ।

महानगरपालिका आयुक्त श्री शेखर सिंह ने यह आशा व्यक्त करते हुए कहा कि यह पहल प्रथम चरण में सफलतापूर्वक क्रियान्वित होगी, इस पहल के प्रति समर्थन व्यक्त किया। इस परियोजना के माध्यम से शहर में अंतिम चरण तक कनेक्टिविटी उपलब्ध होगी। शहर में साइकिल ट्रैक का उपयोग बढ़ेगा। इससे नागरिकों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी। इस पहल के माध्यम से महानगरपालिका की नागरिक-केंद्रित कार्यों के प्रति प्रतिबद्धता भी प्रदर्शित होती है। मैं आप सभी से इस पहल का समर्थन करने और इसमें भाग लेने की अपील करता हूं। इस परियोजना से नागरिकों को अनेक लाभ होंगे। साइकिल के प्रयोग से शरीर का व्यायाम होगा और स्वास्थ्य में सुधार होगा। कार्बन उत्सर्जन और यातायात की भीड़ में कमी के कारण पर्यावरण पर इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। इससे स्वच्छ और हरित शहर को भी बढ़ावा मिलेगा। राइडशेयर प्रणाली कम दूरी के लिए एक किफायती और सुविधाजनक परिवहन विकल्प प्रदान करेगी। यह पहल बीआरटी और मेट्रो स्टेशनों तक आसान पहुंच प्रदान करती है।

समग्र सार्वजनिक परिवहन दक्षता में सुधार होता है। इस परियोजना में उन्नत यूरोपीय तकनीक का उपयोग किया गया है, इसलिए यह सेवा नागरिकों के लिए फायदेमंद है। इस गतिविधि में नागरिक भी भाग ले सकते हैं। इस पहल से साइकिलिंग और पैदल यात्री बुनियादी ढांचे का उपयोग बढ़ेगा। शहर में मोटर रहित यातायात के लिए अनुकूल वातावरण तैयार किया जाएगा। ईज़ीपेडल सार्वजनिक राइडशेयर परियोजना का कार्यान्वयन शुरू हो गया है। अगस्त 2024 तक कार्यान्वित होने की उम्मीद है। शहर के विकास को बढ़ावा देकर नागरिकों को परिवहन सेवाएं प्रदान करके इस पहल में अधिक से अधिक नागरिकों को भाग लेने के लिए अनुरोध किया गया है।

Spread the love

Post Comment