सर्वोच्‍च न्‍यायालय ने नीट-यूजी 2024 में पेपर लीक और कदाचार का आरोप वाली याचिकाओं पर एनटीए और केंद्र सरकार को नोटिस भेजा

सर्वोच्‍च न्‍यायालय ने नीट-यूजी 2024 में पेपर लीक और कदाचार का आरोप वाली याचिकाओं पर एनटीए और केंद्र सरकार को नोटिस भेजा

सर्वोच्‍च न्‍यायालय ने राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा- नीट-यूजी 2024 में पेपर लीक और कदाचार का आरोप वाली याचिकाओं पर आज राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी-एनटीए और केंद्र सरकार को नोटिस भेजा है।

एनटीए और केंद्र को नोटिस जारी करते हुए शीर्ष न्‍यायालय ने कहा कि परीक्षा के मामले में छोटी सी लापरवाही से भी निपटने की जरूरत है। न्‍यायालय ने यह भी कहा कि नीट देश की सबसे कठिन प्रवेश परीक्षाओं में से एक है और इसके लिए परीक्षार्थी जो कडी मेहनत करते हैं उसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता।

न्यायमूर्ति विक्रम नाथ और एसवीएन भट्टी की अवकाश पीठ ने मामले की सुनवाई के दौरान यह टिप्पणी की। मामले की अगली सुनवाई 8 जुलाई को होगी।

शीर्ष न्‍यायालय ने यह भी कहा कि परीक्षा से संबंधित मुकदमे को लेकर गलत धारणा नहीं बनाई जानी चाहिए बल्कि गलतियों को सुधारा जाना चाहिए।  न्‍यायालय ने यह भी दोहराया कि वह नीट काउंसलिंग पर रोक नहीं लगाएगा।

Spread the love
Previous post

कबड्डी के खेल को बढ़ावा देने के लिए आवश्यक निधि उपलब्ध कराई जाएगी : उपमुख्यमंत्री अजीत पवार

Next post

30 जून को आकाशवाणी से प्रसारित होने वाले रेडियो कार्यक्रम मन की बात के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता से मांगे सुझाव

Post Comment