18वीं लोकसभा के अध्यक्ष पद के लिए एनडीए के उम्मीदवार होंगे भाजपा सांसद ओम बिरला, विपक्ष ने कांग्रेस सांसद के.सुरेश को उम्मीदवार बनाया

18वीं लोकसभा के अध्यक्ष पद के लिए एनडीए के उम्मीदवार होंगे भाजपा सांसद ओम बिरला, विपक्ष ने कांग्रेस सांसद के.सुरेश को उम्मीदवार बनाया

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ सांसद ओम बिरला पिछली लोकसभा में भी अध्यक्ष थे। वे इस बार भी राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन- एनडीए के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार होंगे। वहीं विपक्ष इंडिया गठबंधन ने इस पद के लिए कांग्रेस के सांसद के. सुरेश को अपना उम्मीदवार बनाया है। दोनों उम्मीदवारों ने अध्यक्ष पद के लिए आज अपना-अपना नामांकन भरा। अध्यक्ष का चुनाव कल होगा।
इससे पहले, सरकार और विपक्ष इस पद के लिए आम सहमति तक पहुंचने में असफल रहे है। संसद के बाहर मीडिया से बातचीत में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि वरिष्ठ केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, अमित शाह और जगत प्रकाश नड्डा ने इस मुद्दे पर कांग्रेस के नेता के.सी वेणुगोपाल और डीएम के नेता टीआर बालू के साथ बैठक की। विपक्ष के नेता श्री बिरला की उम्मीदवारी पर समर्थन देने से पहले उपाध्यक्ष के नाम की घोषणा करने पर जोर दे रहे थे। श्री गोयल ने कहा कि उन्हें सूचित कर दिया गया है कि उपाध्यक्ष का मुद्दा इसके चुनाव के समय निपटाया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि विपक्ष शर्ते रख रहा है जिसे सरकार खारिज कर चुकी है।
इससे पहले, कांग्रेस के सांसद राहुल गांधी ने कहा कि विपक्ष, अध्यक्ष उम्मीदवार को अपना समर्थन देने के लिए तैयार है, लेकिन उपाध्यक्ष पद के लिए विपक्षी पार्टी का उम्मीदवार होना चाहिए। संसद परिसर में आज मीडिया को जानकारी देते हुए श्री गांधी ने कहा कि राजनाथ सिंह ने मल्लिकार्जुन खरगे से मुलाकात करके उन्हें अध्यक्ष को अपना समर्थन देने को कहा। श्री गांधी ने कहा कि श्री खरगे ने उन्हें बताया कि विपक्ष राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के अध्यक्ष उम्मीदवार को अपना समर्थन देने के लिए तैयार है, लेकिन परंपरा के अनुसार उपाध्यक्ष का पद विपक्ष को दिया जाना चाहिए।

लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव स्वाधीनता के समय से बिना किसी प्रतिस्पर्धा का होता है, लेकिन यह पहली बार है, जब इस पद के लिए प्रतिस्पर्धा हो रही है।

Spread the love
Previous post

मध्य रेल, मुख्यालय, मुंबई छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस में क्षेत्रीय राजभाषा कार्यान्वयन समिति की 185वीं बैठक संपन्न

Next post

केंद्र सरकार ने दूरसंचार सेवाओं के लिए 96 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के स्पेक्ट्रम की नीलामी शुरू की

Post Comment